Debit Card Meaning In Hindi, Debit Card Kya hai, Virtual Debit Card Meaning In Hindi

Debit Card Meaning in hindi – डेबिट कार्ड क्या है, डेबिट कार्ड का मतलब क्या है?

Debit Card Meaning In Hindi, डेबिट कार्ड का मतलब क्या है, Debit Card Kya hai, डेबिट कार्ड क्या होता है, Virtual Debit Card Meaning In Hindi
 

हेलो दोस्तो Infos Hindi में आपका स्वागत है, आज के इस लेख में हम आपके लिए एक ओर महत्वपूर्ण जानकारी लेकर आये है, जिसमे हम डेबिट कार्ड का मतलब क्या है (Debit Card Meaning In Hindi) के बारे में बात करने वाले है।

साथ में जानेंगे की डेबिट कार्ड कहां से बनता है, एटीएम कार्ड क्या होता है, ओर डेबिट कार्ड ओर क्रेडिट कार्ड में क्या अंतर है, से जुड़ी हुई तमाम जानकारी आज के इस लेख में हम आपको देने वाले है।
 
दोस्तों आज के समय मे ऑनलाइन शॉपिंग करना हो या फिर एटीएम से पैसा निकालना हो, दोनो ही समय पर डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड का नाम सबसे पहले आता है, आज से कुछ साल पहले तक अपने बैंक खाते से पैसे निकालने के लिए दिन भर बैंको की लाइन में खड़ा होना पड़ता था।
Debit Card Meaning In Hindi, Debit Card Kya hai, Virtual Debit Card Meaning In Hindi
लेकिन पिछले कुछ सालों में टेक्नोलॉजी में बहुत विस्तार हुआ है, जिसकी वजह से आज के समय मे डेबिट ओर क्रेडिट कार्ड की मदद से पैसे निकालना बहुत ही आसान हो गया है, आज के इस लेख में हम आपको डेबिट कार्ड से जुड़ी हुई जानकारी देने वाले है।
 
जिसमे हम बात करने वाले है, की Debit Card Meaning in hindi क्या है, ओर डेबिट कार्ड ओर क्रेडिट कार्ड में क्या अंतर है से जुड़ी हुई महत्वपूर्ण जानकारी आज हम आपके सामने प्रस्तुत करने वाले है, आइये अब बिना वक्त जाया करे जानते है, की Debit Card kya hai.
 

Debit Card kya hai – Debit Card Meaning In Hindi 

Debit Card एक तरह का प्लास्टिक से बना हुआ कार्ड होता है, जिसमे 16 अंक होते है, जोकि बैंक की तरफ़ से दिया जाता है, जब हम बैंक में अपना एकाउंट ओपन करवाने जाते है, तब हमें एक फॉर्म भरना होता है, जिसमे हमे हमारी सारी डिटेल्स देनी पड़ती है।
 
इस फॉर्म में एक डेबिट कार्ड का फॉर्म भी होता है, हम चाहे तो बैंक एकाउंट खुलवाते समय डेबिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते है, हर एक बैंक खाते के साथ एक डेबिट कार्ड जरूर दिया जाता है।
 
भारत मे एटीएम मशीन से पैसे निकालने के लिए हमारे पास डेबिट कार्ड का होना बहुत जरूरी होता है, हम बिना डेबिट कार्ड के एटीएम से पैसे नही निकाल सकते है, डेबिट कार्ड हमारे लिए बहुत ही ज्यादा मायने रखता है।
 
क्योकि डेबिट कार्ड की मदद से हम ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते है, मोबाइल का रिचार्ज कर सकते है, एटीएम से पैसे निकाल सकते है, इसके अलावा जितने भी डेबिट कार्ड के कई सारे महत्व है, दोस्तो हम आपको एक बार फिर स्पष्ट रूप से बताना चाहेंगे,
 
कि आप एटीएम मशीन में जो कार्ड डालकर पैसे निकालते है, उसे ही डेबिट कार्ड कहते है, डेबिट कार्ड से जब ऑनलाइन ट्रांजेक्शन किया जाता है, या फिर एटीएम की मदद से पैसे निकाले जाते है, तब तुरंत ही बैंक एकाउंट से पैसे डेबिट हो जाते है।
 
सरल भाषा मे समझना चाहे तो डेबिट कार्ड के इस्तेमाल से उतना ही पैसा निकाल सकते है, जितना कि आपके बैंक एकाउंट में मौजदू हो, डेबिट कार्ड के इस्तेमाल से पैसे निकालने के लिए कुछ चार्ज भी देना पड़ता है, सभी बैंक अपने अनुसार डेबिट कार्ड की फीस लेती है।
 
आज के समय मे सभी बैंक खाता धारकों को डेबिट कार्ड की सुविधा मुहैया कराती है, जब आप फ़ोन पे, गूगल पे या फिर अन्य कोई पेमेंट ट्रांसफर ऐप का इस्तेमाल करते है, तो बैंक वेरिफिकेशन के लिए भी डेबिट कार्ड की जरूरत पड़ती है।
 
दोस्तो डेबिट कार्ड कई प्रकार के होते है, जिनके बारे मे आगे हम बात करने वाले है, डेबिट कार्ड के जैसा क्रेडिट कार्ड भी होता है, दोनों में कुछ समानताएं है ओर कुछ अंतर है, आइये अब Virtual Debit Card Meaning In Hindi से जुड़ी हुई जानकारी प्राप्त करते है।
 

वर्चुअल डेबिट कार्ड क्या होता है? (Virtual Debit Card Meaning In Hindi)

दोस्तो आज के समय मे हम घर बैठे बैंक एकाउंट ओपन कर सकते है, बस यही कारण है, की ज्यादातर बैंक अपने खाता धारकों को वर्चुअल डेबिट कार्ड की सुविधा मुहैया करवा रही है, वर्चुअल डेबिट कार्ड फिजिकल डेबिट कार्ड जैसा ही होता है।
 
फिजिकल डेबिट कार्ड प्लास्टिक से बना हुआ होता है, जबकि वर्चुअल डेबिट कार्ड एक इलेट्रॉनिक कार्ड या ई-कार्ड होता है, जिससे हम जेब मे तो नही रख सकते है, लेकिन यदि हमारे पास मोबाइल फ़ोन है, ओर हमारा वर्चुअल डेबिट कार्ड बना हुआ है।
 
तो हम वर्चुअल डेबिट कार्ड की मदद से ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते है, मोबाइल रिचार्ज कर सकते हैं, इसके अलावा भी वर्चुअल डेबिट कार्ड के कई सारे महत्व है, आइये अब जानते है, की डेबिट कार्ड कितने प्रकार के होते है।
 

डेबिट कार्ड कितने प्रकार के होते है ?

डेबिट कार्ड 4 प्रकार के होते है, रुपे डेबिट कार्ड, मास्टर डेबिट कार्ड, वीज़ा डेबिट कार्ड ओर मैस्ट्रो डेबिट कार्ड यह सभी डेबिट कार्ड बैंक की तरफ़ से दिए जाते है।
 
आप अपनी इक्छानुसार किसी भी डेबिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते है, चारो डेबिट कार्ड में थोड़ा बहुत अंतर देखने को मिलता है, आइये चारो डेबिट कार्ड के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करते है-
 

1- रुपे डेबिट कार्ड 

रुपे डेबिट कार्ड को NPCI के द्वारा जारी किया गया है, इसे भारत में ही संचालित किया गया है, ओर इसका इस्तेमाल ज्यादातर भारत मे ही किया जाता है, ज्यादातर खाता धारक रुपे डेबिट कार्ड लेना पसंद करते है, क्योकि रुपे डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करने पर कोई अतिरिक्त शुल्क नही देना पड़ता है।
 

2- मास्टर डेबिट कार्ड 

मास्टर डेबिट कार्ड भी एक लोकप्रिय डेबिट कार्ड माना जाता है, क्योकि मास्टर कार्ड का उपयोग 210 देशो में किया जा सकता है, मास्टर डेबिट कार्ड को एक अमेरिकी कंपनी ने संचालित किया है, मास्टर कार्ड का उपयोग भी ऑनलाइन पेमेंट के लिए किया जा सकता है।
 

3- वीज़ा डेबिट कार्ड 

दोस्तो जिसपर डेबिट कार्ड पर Visa लिखा हुआ होता है, उसे वीज़ा डेबिट कार्ड कहते है, इस डेबिट कार्ड को भी एक अमेरिकी कंपनी ने संचालित किया है, वीज़ा कार्ड का उपयोग भी ऑनलाइन ओर ऑफलाइन पेमेंट के लिए किया जा सकता है, इस कार्ड का उपयोग करने पर एक निश्चित शुल्क लगता है।
 

4- मैस्ट्रो डेबिट कार्ड

मेस्ट्रो डेबिट कार्ड को एक अंतरराष्ट्रीय संस्था के द्वारा संचालित किया गया है, मैस्ट्रो डेबिट कार्ड सेवा की स्थापना सन 1992 में हुई थी, विदेशो में भी मैस्ट्रो डेबिट कार्ड का उपयोग किया जा सकता है, सभी बैंके इस कार्ड का इस्तेमाल करने की अनुमति देती है, ओर दुनिया भर के अनेक देशों में यह कार्ड मान्य है।
 
दोस्तो यह प्रमुख चार प्रकार के डेबिट कार्ड होते है, जिनका इस्तेमाल आप कर सकते है, सभी डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करने पर चार्जेज लगते है, ओर सभी मे डेबिट कार्ड का उपयोग करने पर ऑफर ओर कैशबैक भी मिलते है।
 
जिनकी जानकारी आपको बैंको के द्वारा मिल जाती है, आइये अब जानते है, की डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड में क्या अंतर है।
 

डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड में क्या अंतर है ?

दोस्तो जैसा हम आपको पहले ही बता चुके है, की डेबिट कार्ड की तरह क्रेडिट कार्ड भी होता है, लेकिन डेबिट कार्ड ओर क्रेडिट कार्ड में कुछ अंतर ओर समानताएं देखी जा सकती है, आइये जानते है, की डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड में क्या अंतर है- 
 

डेबिट कार्डक्रेडिट कार्ड
डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करने पर ब्याज ओर अतिरिक्त शुल्क ज्यादा नही लगता हैक्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने पर आपको ब्याज ओर अतिरिक्त शुल्क देना पड़ सकता है।
डेबिट कार्ड के प्रयोग से आप एटीएम के द्वारा उतने ही पैसे निकाल सकते है जितने की आपके बैंक एकाउंट में हो।क्रेडिट कार्ड में आपको आपकी सैलरी के हिसाब से एडवांस क्रेडिट अर्थात एडवांस पैसे इस्तेमाल करने के लिए मिल जाते है।
डेबिट कार्ड में आपको EMI फैसिलिटी नही मिलती है।वही क्रेडिट कार्ड में आपको EMI फैसेलिटी मिल जाती है।
बैंक के द्वारा डेबिट कार्ड बैंक खाता खुलवाते समय ही मिल जाता है।जबकि क्रेडिट कार्ड आपको तभी मिलता है, जब आपके एकाउंट में लगातार पैसे क्रेडिट हो।
डेबिट कार्ड का उपयोग एमरजेंसी हालातो में नही किया जा सकता है।जबकि क्रेडिट कार्ड एमरजेंसी हालातो में भी आपके काम आ सकता है, क्योकि इसमें एडवांस क्रेडिट की सुविधा मिल जाती है।

दोस्तों डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड में यह प्रमुख अंतर देखने को मिल जाते है, दोनों ही कार्ड के अपने अलग-अलग महत्व है, लेकिन दोनों कार्डो का उपयोग एक जैसे ही किया जाता है, फर्क सिर्फ इतना सा है।
 
की क्रेडिट कार्ड में आपको आपकी इनकम के हिसाब से क्रेडिट मिल जाता है, जिसका इस्तेमाल आप पैसे ना होने पर भी कर सकते है, क्रेडिट कार्ड इमरजेंसी हालातो में आपकी सहायता कर सकता है।
 

डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड में समानताएं ?

दोस्तो डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड में कुछ समानताएं देखने को मिल जाती है, जोकि कुछ इस प्रकार से है – 
 
  • दोनों ही कार्ड प्लास्टिक के बने हुए होते है, एवं दोनों ही कार्ड पर Magnetic Strip होती है।
  • डेबिट कार्ड और क्रेडिट की मदद से ऑनलाइन पेमेंट ओर फण्ड ट्रांसफर किया जा सकता है।
  • डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड को बैंक के द्वारा ही बनाया जाता है।
  • डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड दोनों का इस्तेमाल करने पर कुछ चार्ज बैंक की तरफ़ से लिया जाता है।
  • दोनों ही कार्ड से पैसे निकालने के लिए 4 अंको के पिन की जरूरत होती है।
दोस्तो डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड में यह प्रमुख समानताएं देखने को मिल जाती है, आइये अब जानते है, की डेबिट कार्ड के फायदे क्या है।
 

डेबिट कार्ड के फायदे क्या है ?

दोस्तो डेबिट कार्ड में कई सारे फायदे देखने को मिल जाते है, जोकि निम्नलिखित है – 
 
  • डेबिट कार्ड की मदद से आप घर बैठे मोबाइल का रिचार्ज कर सकते है।
  • डेबिट कार्ड की मदद से आप सिर्फ 2 मिनेट में एटीएम से पैसे निकाल सकते है।
  • डेबिट कार्ड की मदद से आप ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते है।
  • डेबिट कार्ड के उपयोग से आप एलेट्रिसिटी बिल, DTH रिचार्ज, ओर Water बिल भर सकते है।
  • डेबिट कार्ड की मदद से आप पेमेंट ट्रांसफर ऐप गूगल पे, फ़ोन पे का इस्तेमाल कर सकते है।
दोस्तो डेबिट कार्ड के यह प्रमुख फायदे है, अगर देखा जाए तो डेबिट कार्ड हमारे लिए कई रूप से महत्वपूर्ण है, दोस्तो आसा करते है, की डेबिट कार्ड का मतलब क्या है (Debit Card Meaning In Hindi) से संबंधित यह ब्लॉग पोस्ट आपको पसंद आई होगी।
 

डेबिट कार्ड का मतलब क्या है से संबंधित FAQS

डेबिट कार्ड क्या होता है ?

दोस्तो डेबिट कार्ड प्लास्टिक से बना हुआ एक कार्ड होता है जिसपर 16 अंक लिखे हुए होते है, डेबिट कार्ड को एटीएम कार्ड भी कहा जाता है, यह कार्ड बैंक अपने ग्राहक को देती है, इस कार्ड की मदद से एटीएम से पैसे निकाले जा सकते है और ऑनलाइन शॉपिंग की जा सकती है, हर अपने ग्राहक को बैंक अकाउंट खुलवाते समय डेबिट कार्ड देती है।

डेबिट कार्ड का अर्थ क्या होता है ?

दोस्तो डेबिट कार्ड एक प्लास्टिक कार्ड होता है, जब भी कोई व्यक्ति किसी बैंक में खाता खुलवाता है तो बैंक की तरफ से अपने ग्राहक को एक प्लास्टिक कार्ड दिया जाता है, जिसे डेबिट कार्ड या एटीएम कार्ड कहा जाता है, इस कार्ड की मदद से एटीएम से पैसे निकाले जा सकते हैं और ऑनलाइन शॉपिंग की जा सकती हैं, इसके अलावा भी इस कार्ड के कई सारे उपयोग है।

क्रेडिट कार्ड क्या होता है ?

दोस्तो क्रेडिट कार्ड भी एटीएम और डेबिट कार्ड की तरह होता है, लेकिन क्रेडिट कार्ड के डेबिट कार्ड की तुलना में कई सारे फायदे होते है, जब भी कोई बैंक के अपने ग्राहक को क्रेडिट कार्ड देती है, तो उस कार्ड के साथ एक क्रेडिट लिमिट दी जाती है, जिसका इस्तेमाल ग्राहक कभी भी कर सकता है, अर्थात पैसे ना होने पर भी क्रेडिट कार्ड से पैसे निकाले जा सकते है और जब आपके पास पैसे आ जाते है तो वापस आप उस क्रेडिट कार्ड का बिल भर सकते है।

क्या डेबिट कार्ड की कोई फीस होती है?

जी हां दोस्तों डेबिट कार्ड की एक सालाना फीस होती है जोकि बैंक और डेबिट कार्ड के ऊपर तय होती है, डेबिट कार्ड की फीस 100 रुपए से लेकर 1000 रुपए के बीच हो सकती है। लेकिन एक अनुमानित फीस 300 रुपए तक हो सकती है।

डेबिट कार्ड कहां से बनता है?

डेबिट कार्ड बैंक की तरफ से बनाया जाता है आप जिस भी बैंक में अपना अकाउंट खुलवाते है, वह बैंक आपको बैंक पासबुक, चेकबुक के साथ साथ डेबिट कार्ड भी देती है, जिसकी मदद से आप एटीएम से पैसे निकाल सकते हैं।

डेबिट कार्ड का दूसरा नाम क्या है?

दोस्तों डेबिट कार्ड का दूसरा नाम एटीएम कार्ड है, डेबिट कार्ड को एटीएम कार्ड के नाम से भी जाना जाता है।

निष्कर्ष :- डेबिट कार्ड का मतलब क्या है

आसा करते हैं, की आपको डेबिट कार्ड का मतलब क्या है (Debit Card Meaning hindi) ओर Virtual Debit Card Meaning hindi से संबंधित यह लेख पसंद आया होगा।
 
इस लेख में हमारे द्वारा Debit Card Kya hai, डेबिट कार्ड क्या होता है के बारे में भी जानकारी दी है, यदि यह जानकारी आपको पसंद आई होतो, इसे अपने दोस्तों तक जरूर शेयर करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!