Internship Kya Hota Hai, Internship Kya hai, What Is Internship in Hindi, Internship Meaning In Hindi,

Internship Kya Hota Hai – इंटर्नशिप क्या होता है, इंटर्नशिप कैसे करें ?

इंटर्नशिप क्या होता है, Internship Kya Hota Hai, इंटर्नशिप का मतलब क्या होता है, Internship Kya hai, What Is Internship in Hindi, Internship Meaning In Hindi,
 

दोस्तो Infoshindi में आपका स्वागत है, इस ब्लॉग पोस्ट में आज हम Internship Kya Hota Hai (What Is Internship in Hindi) के बारे में बात करने वाले है।

साथ मे जानेंगे कि इंटर्नशिप का मतलब क्या होता है, इंटर्नशिप कैसे करें और स्कूल इंटर्नशिप क्या होता है से जुड़ी हुई तमाम जानकारी आज के इस लेख में हम आपको देने वाले है।
 
दोस्तो आज के समय मे हर कोई चाहता है, की वह अच्छी किसी कंपनी में नॉकरी करें, ओर उसे कोई अच्छा सैलरी पैकेज मिले, ताकि वह अपने घर परिवार की जरूरत को अच्छे से पूरा कर पाएं, दोस्तो किसी अच्छी नॉकरी को पाने के लिए आपको आपके कार्य और क्षेत्र में माहिर होना होगा।
Internship Kya Hota Hai, Internship Kya hai, What Is Internship in Hindi, Internship Meaning In Hindi,
 
तभी आप एक अच्छी कंपनी में नोकरी पा सकते है, किसी अच्छे क्षेत्र में कार्य करने में Internship आपकी कई तरह से मदद कर सकती है, आइये अब बिना किसी टाइम नष्ट करें, जानते हैं, की इंटर्नशिप क्या होता है, (What is internship in hindi) ओर इंटर्नशिप कैसे करें।
 

Table of Contents

Internship Kya Hota Hai?(What is Internship in Hindi)

दोस्तो जब आप कोई ग्रेजुएशन कोर्स पूरा करते है, उसके बाद जब आप किसी नोकरी को पाने के लिए इंटरव्यू देते है, ओर इंटरव्यू में आपका सिलेक्शन नही हो पाता है, तो ऐसे में आप इंटर्नशिप कर सकते है, इंटर्नशिप करने के कई सारे फायदे होते है।
 
आप किसी भी अच्छी इंस्टिट्यूट से इंटर्नशिप कर सकते है, दोस्तो इंटर्नशिप प्रोग्राम 3 महीने, 6 महीने, 1 साल या फिर 3 साल का हो सकता है। जब आपकी इंटर्नशिप पूरी हो जाती है, तो आपको उस इंस्टिट्यूट की तरफ से इंटर्नशिप सर्टिफिकेट भी दिया जाता है।
 
दोस्तो इंटर्नशिप सर्टिफिकेट तब बहुत ज्यादा काम आता है, जब आप जॉब के लिए किसी कंपनी में इंटरव्यू देने जाते हो, क्योकि जिन लोगो के पास इंटर्नशिप सर्टिफिकेट होता है, उनके सिलेक्शन होने के चांस बढ़ जाते है, दोस्तो हिंदी भाषा में Internship को “प्रशिक्षुता” कहा जाता है।
 
जो स्टूडेंट 12वी करने के बाद MBA, BBA या फिर MBBS जैसा कोर्स करते है, उनके लिए इंटर्नशिप जरूरी मानी जाती है, दोस्तो हम आपको बताना चाहेंगे कि किसी भी स्टूडेंट को इंटर्नशिप करने से पहले ग्रेजुएशन कंप्लेट करना पड़ता है।
 
या फिर वह ग्रेजुएशन के आखरी साल में हो तब भी कोई भी स्टूडेंट इंटर्नशिप कर सकता है। इंडिया में कई सारे अच्छे-अच्छे इंस्टिट्यूट है, जिनसे आप इंटर्नशिप कर सकते है, दोस्तो जब आप इंटर्नशिप करते है, तो उस इंटर्नशिप सर्टिफिकेट में निम्नलिखित जानकारी देखने को मिलती है,
 
जैसे – आपके बारे में जानकारी, इंस्टिट्यूट का नाम, इंटर्नशिप सब्जेक्ट, इंटर्नशिप ग्रेड ओर इंटर्नशिप ड्यूरेशन इत्यादि। आइये दोस्तो अब जानते है, की इंटर्नशिप क्यों आवश्यक है।

 

इंटर्नशिप क्यों आवश्यक है ?

अब तक आपने जाना कि इंटर्नशिप क्या होता है, दोस्तो अब बात करते है, की इंटर्नशिप क्यों आवश्यक है, दोस्तों आज के समय में एक नौकरी को लेकर कॉम्पिटिशन बढ़ता जा रहा है, अर्थात किसी एक सरकारी एवं प्राइवेट नॉकरी के लिए कई सारे उम्मीदवार है।

ऐसे में सभी कंपनियां उन उम्मीदवार को ज्यादा प्रेफर करती है, जिनके पास 1 से 2 साल का वर्क अनुभव हो, ऐसे में सभी लोगो के पास तो वर्क अनुभव होता नही है, लेकिन अगर कोई छात्र इंटर्नशिप कर लेता है, तो उसको वर्क अनुभव मिल जाता है।

जिसके कारण उसके नॉकरी मिलने के आसार कई गुना तक बढ़ जाते है। ओर इंटर्नशिप किये हुए छात्रो को किसी अच्छी कंपनी में जल्दी नॉकरी मिल जाती है, आइये दोस्तो अब जानते है, की इंटर्नशिप कितने प्रकार की होती है ओर इंटर्नशिप कैसे करें।

.

इंटर्नशिप कितने प्रकार की होती है ?

दोस्तो अब तक आप जान चुके है, की इंटर्नशिप क्या होता है, अब हम आपको इंटर्नशिप के प्रकार के बारे में बताने वाले है, वैसे तो दोस्तो इंटर्नशिप कई प्रकार की होती है, लेकिन उनमें से हम आपको प्रमुख 5 प्रकार की इंटर्नशिप के बारे में जानकारी देने वाले है- 
 

1- Work Research 

दोस्तो जब स्टूडेंट ग्रेजुएशन करने के अंतिम साल में होते है, तो उनमे से कई सारे स्टूडेंट Work Research की इंटर्नशिप करना पसंद करते हैं, जिसके अंतर्गत स्टूडेंट को कंपनीयों के बारे में रिसर्च करने के लिए कहा जाता है, ओर उसकी रिपोर्ट तैयार करनी होती है।
 

2- Virtual Internship 

दोस्तो पिछले कुछ समय से कोरोना वायरस के कारण बहुत से स्टूडेंट कॉलेज या इंस्टिट्यूट नही जा पाए, इस कारण से वर्चुअल इंटर्नशिप स्टूडेंट के बीच काफ़ी लोकप्रिय रही है, वर्चुअल इंटर्नशिप करते समय आपको किसी इंस्टिट्यूट में जाने की कोई जरूरत नही होती है।
 
आप घर बैठे ही वर्चुअल इंटर्नशिप कर सकते है, इस प्रकार की इंटर्नशिप करने के लिए आपके पास लैपटॉप, मोबाइल फोन और इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता पड़ती है, तभी आप वर्चुअल इंटर्नशिप कर सकते है।
 

3- Paid Internship 

दोस्तो कई सारी बड़ी-बड़ी यूनिवर्सिटी अपने छात्रों के भविष्य के लिए कंपनीयों से अपने संबंध बेहतर बनाए रखती है, जिसके फलस्वरूप यूनिवर्सिटी अपने छात्रो को किसी बड़ी कंपनी से ही इंटर्नशिप करवा देती है।
 
इस प्रकार की इंटर्नशिप लोगो के बीच काफी ज्यादा पॉपुलर है, क्योंकि इस तरह की इंटर्नशिप करने पर स्टूडेंट को इंटर्नशिप सर्टिफिकेट के साथ-साथ उस कंपनी में काम करने का मौका मिलता है।
 
ओर कुछ सैलरी भी मिलती है, जिससे कि छात्र अपना खर्चा चला पाए, पेड इंटर्नशिप में सर्टिफिकेट ओर सैलरी दोनों ही मिलती है, ओर कई सारे स्टूडेंट को उस कंपनी में एक अच्छी जॉब भी मिल जाती है।
 

4- Unpaid Internship 

दोस्तो Paid Internship की तुलना में Unpaid Internship आसानी से मिल जाती है, क्योकि Unpaid Internship में आपको पैसे नही मिलते है, लेकिन आपको काम का एक अच्छा अनुभव प्राप्त होता है।
 
किसी इंस्टिट्यूट से Unpaid Internship करने के बाद आपको इंटर्नशिप सर्टिफिकेट दिया जाता है, जोकि आगे चलकर फ्यूचर में आपके बहुत काम आता है, अनपेड इंटर्नशिप आप यूनिवर्सिटी, हॉस्पिटल, कंपनी, ओर एनजीओ के माध्यम से कर सकते है।
 

5- Summer Internship

दोस्तो समर इंटर्नशिप के नाम से ही आप समझ गए होंगे, की इस तरह की इंटर्नशिप गर्मियों के दिनों में होती है, गर्मियों के दिनों में कई छात्र फ्री रहते है, ऐसे में वह समर इंटर्नशिप कर सकते है, समर इंटर्नशिप दो तरह की होती है। 
 
पेड ओर अनपेड, जो स्टूडेंट गर्मियों में इंटर्नशिप करना चाहते है, वह समर इंटर्नशिप के लिए पार्टिसिपेट करते है, समर इंटर्नशिप 1 से लेकर 3 महीने की होती है, इस तरह की इंटर्नशिप का आयोजन बड़े-बड़े एनजीओ करवाते है।
 

इंटर्नशिप कैसे करें ?

दोस्तो अब तक आपने जाना कि इंटर्नशिप क्या होता है, ओर इंटर्नशिप का प्रकार के बारे में अब हम बात करने वाले है, की इंटर्नशिप कैसे करें और इंटर्नशिप करने का तरीका क्या है, दोस्तो आप 2 से 3 तरीको से इंटर्नशिप कर सकते है, जोकि निम्नलिखित है-
 

यूनिवर्सिटी / कॉलेज की सहायता से

दोस्तो यदि आपने किसी अच्छे और प्रॉफेसनल कॉलेज या यूनिवर्सिटी में एडमिशन लिया है, तो आप उसी कॉलेज से इंटर्नशिप कर सकते है, बड़े शहरो में कॉलेजों के बडी-बडी कंपनियों के साथ में टाइअप रहते है, 
 
ऐसे में हर साल वह कंपनियां इंटर्नशिप प्रोग्राम का आयोजन करवाती है, आप इंटर्नशिप प्रोग्राम की जानकारी लेकर के अपने विश्वविद्यालय में आसानी से इंटर्नशिप कर सकते है। 
 

खुद से इंटर्नशिप करें

दोस्तो अगर आपको किसी यूनिवर्सिटी या कॉलेज से. इंटर्नशिप नहीं कर पा रहे हैं तो ऐसे मैं आपको निराश होने की बिल्कुल आवश्यकता नही है, क्योकि आज के समय मे कई ऐसी कंपनियां ओर इंस्टिट्यूट है, जोकि इंटर्नशिप प्रोग्राम का आयोजन करवाती है,
 
आपको सिर्फ उस कंपनी ओर इंस्टिट्यूट तक पहुँचना है, जोकि इंटर्नशिप प्रोग्राम का ऑफर देती हो, जिसके बाद आप उस कंपनी के HR से संपर्क करके इंटर्नशिप प्रोग्राम जॉइन कर सकते हो।
 

ऑनलाइन इंटर्नशिप ढूंढे

दोस्तो जैसा की ऊपर हमने आपको वर्चुअल इंटर्नशिप के बारे में जानकारी दी है, आप चाहे तो ऑनलाइन इंटरनेट की मदद से घर बैठे इंटर्नशिप कर सकते है, आज के समय मे कई सारे ऑनलाइन प्लेटफार्म आ गए है।
 
जोकि वर्चुअल इंटर्नशिप का आफर देते है, हम आपको कुछ वेबसाइट ओर एप्लिकेशन के बारे में बताने वाले है, जिनकी मदद से ऑनलाइन इंटर्नशिप ढूंढ सकते हो, ऑनलाइन इंटर्नशिप प्रोग्राम ढूंढने वाली वेबसाइट निम्नलिखित है-
.

 

INTERNSHIP के दौरान किन बातों का ध्यान रखना चाहिए ?

INTERNSHIP के दौरान आपको निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना चाहिए हैं –

  • हमेशा प्रोफेशनल बनने की कोशिश करें, आपके व्यवहार में आपकी मेहनत और स्किल्स दिखनी चाहिए।
  • कंपनी के वातारण और कम्पनी में काम करने वाले लोगो के व्यवहार समझे।
  • अपनी जिम्मेदारी को अच्छे से समझें, और अपने कार्य को समय पर पूरा करें।
  • कंपनी के कर्मचारी के साथ और अन्य इंटर्न्स के साथ नेटवर्क बनाए और उनके साथ अच्छा व्यवहार रखे।
  • नोट्स बनाए, अपने मैनेजर या टीम लीडर से सवाल पूछें और उनसे आपके कार्य का फीडबैक ले।

Internship करने के फायदे 

दोस्तो आपमे से बहुत ही कम लोग जानते होंगे, की इंटर्नशिप करने के कई सारे फायदे है, दोस्तो हम बताना चाहेंगे कि इंटर्नशिप आपके कैरियर को संवारने के लिए वरदान साबित हो सकती है, क्योकि इंटर्नशिप करने के अनेकों फ़ायदे है, जोकि निम्नलिखित है-
 

कार्य अनुभव 

दोस्तो आज के समय मे सभी कंपनी ऐसे लोगो का चयन करती है, जिनके पास 1 से 2 साल का कार्य अनुभव हो, अगर आपके पास कार्य अनुभव नही है, तो आपको किसी भी कंपनी में कार्य मिलना बहुत ही मुश्किल है, ऐसे में अगर आपने इंटर्नशिप की हुई है, तो आपको बड़ी ही आसानी से कार्य मिल सकता है।
 

नई स्किल्स सीखना 

दोस्तो हर एक व्यक्ति के पास अपना एक अलग हुनर होता है, आपमे भी जरूर एक हुनर होगा, अपनी स्किल्स (हुनर) को बाहर लाने में इंटर्नशिप बहुत ही हेल्प करती है, जब आप इंटर्नशिप करते है, तो आप नए-नए कार्य करना सीख सकते है, ओर आपके अंदर जितना भी टैलेंट है, वह निकलकर बाहर आ सकता है। 
 

नोकरी मिलने के आसार बढ़ना 

दोस्तो अगर आप किसी कंपनी या इंस्टीट्यूट से इंटर्नशिप करते होतो, आपको नॉकरी मिलने के आसार बढ़ जाते है, क्योंकि हर एक इंस्टिट्यूट का बड़ी-बड़ी कंपनियों से टाइअप रहता है, ऐसे में अगर आप अच्छा परफॉर्मेंस करते है, तो वह इंस्टिट्यूट आपको किसी अच्छी कंपनी में जॉब दिलवा सकती है, ओर इंटर्नशिप सर्टिफिकेट भी आपको एक अच्छी जॉब दिला सकता है।
 

आत्मविश्वास बढ़ना 

दोस्तो इंटर्नशिप इसलिए कि जाती है, की छात्र किसी नई तकनीक के बारे में सिख सके, ओर वह जिस कार्य को करना चाहता है, उस कार्य का प्रैक्टिकल कर सके, इसके अलावा इंटर्नशिप की मदद से किसी भी छात्र को कोई नई स्किल्स जरूर सिखाई जाती है, ताकि उस छात्र को कोई ना कोई कार्य अवश्य मिल जाए।
 

पैसा भी कमा सकते हो

दोस्तो यदि आप किसी अच्छी कंपनी में पेड इंटर्नशिप करते है, तो आपको इंटर्नशिप के साथ-साथ पैसा भी दिया जाता है, बहुत से कंपनी टैलेंटेड छात्रो का चुनाव करके उन्हें पेड इंटर्नशिप के लिए आफर देती है, 
 
ऐसे में अगर आप किसी अच्छे विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन करते है, तो आपको भी पेड इंटर्नशिप करने का अवसर मिल सकता है, जिसकी मदद से पैसे के साथ-साथ इंटर्नशिप सर्टिफिकेट भी दिया जाता है।
 
दोस्तो इंटर्नशिप करने के 5 प्रमुख फायदे थे, जोकि आपको मिल सकते है, हम आपको यही सलाह देना चाहेंगे कि यदि आप किसी अच्छी और बड़ी नॉकरी में जॉब करना चाहते है, तो आपको इंटर्नशिप जरूर करनी चाहिए, दोस्तो आसा करते है, की Internship Kya Hota Hai (What Is Internship in Hindi) से संबंधित यह लेख आपको पसंद आया होगा।
 

Internship Kya Hota Hai से संबंधित FAQ

दोस्तो Internship Kya Hota Hai से जुड़े हुए आपके मन मे कई सारे सवाल ओर भी होंगे, जिनके जवाब आपको निचे मिल जाएंगे-
 

इंटर्नशिप का अर्थ क्या होता है?

इंटर्नशिप एक प्रकार से नए छात्रों के लिए किसी को लेकर ट्रेनिंग होती है, उदाहरण के लिए आप किसी कंपनी में इंटरव्यू देते है, ओर आप एक फ्रेसर उम्मीदवार है, तो ऐसे में आपको जॉब मिलना थोड़ा मुश्किल होगा, लेकिन अगर आप 6 महिने या 1 साल की इंटर्नशिप कर लेते है, तो उसके बाद आपके पास वर्क एक्सपीरियंस आ जाता है, जिसके बाद आप आसानी से किसी भी कंपनी में जॉब मिल सकती है।

इंटर्नशिप का उद्देश्य क्या है?

दोस्तो इंटर्नशिप का मुख्य उद्देश्य छात्रो को जॉब या नॉकरी मिलने के पहले वर्क अनुभव कराना ओर उन्हें इंटर्नशिप वर्क सर्टिफिकेट देना। अगर कोई स्टूडेंट इंटर्नशिप करता है, तो उसको कई सारे फायदे मिल सकते है, जैसे – वर्क अनुभव, पैसा मिलना, जॉब मिलने के आसार बढ़ना, नई स्किल्स सीखना, सेल्फ कॉन्फिडेंस बढ़ना।

स्कूल इंटर्नशिप क्या होता है ?

जब किसी स्कूल में इंटर्नशिप प्रोग्राम का आयोजन करवाया जाता या, ओर उस आयोजन की मदद से छात्रो को वर्क अनुभव कराया जाता है ओर नई स्किल्स सिखाई जाती है, तो उसे ही स्कूल इंटर्नशिप कहा जाता है।

इंटर्नशिप का मतलब क्या होता है?

दोस्तो जब भी कोई स्टूडेंट किसी कॉलेज MBA, BBA, MSC, BCOM, MCOM, MCA, BCA, B.TECH, MBBS इत्यादि प्रकार के कोर्स करते है तो कोर्स के लास्ट ईयर में छात्रों को एंटरशिप करनी पड़ती है, इसे एक प्रकार से ट्रेनिंग प्रोग्राम कह सकते है।

इंटर्नशिप के लाभ क्या है?

दोस्तो अगर कोई छात्र इंटर्नशिप करता है, तो हम आपको बताना चाहेंगे की इंटर्नशिप के कई सारे लाभ है, जैसे स्किल्स डेवलपमेंट, प्रेप्टिकल नॉलेज, जॉब इन्वायरमेंट, कम्युनिकेशन स्किल्स डेवलप होना, और सर्टिफिकेट आदि।

निष्कर्ष: इंटर्नशिप क्या होता है

दोस्तो उम्मीद करते है, की आपको इंटर्नशिप क्या होता है | What Is Internship in hindi से संबंधित यह आर्टिकल पसंद आया होगा, इस लेख में हमने Internship meaning in hindi ओर इंटर्नशिप का मतलब क्या होता है के बारे में भी जानकारी साझा की है,

इसके अलावा हमने इंटर्नशिप क्या होता है और इंटर्नशिप का मतलब क्या होता है के बारे में भी बताया है, अगर यह जानकारी आपको पसंद आया है, तो अपने दोस्तों को जरूर शेयर।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!