1638116803674

LCD Full Form In Hindi – LCD ka Full form क्या है ?

LCD ka full form, एलसीडी का फुल फॉर्म, LCD Full Form in Hindi, LCD kya hota hai, एलसीडी का फुल फॉर्म क्या होता है,  

दोस्तो Infos Hindi में आपका स्वागत है, आज के इस ब्लॉग पोस्ट में हम आपके लिए एक नई जानकारी लेकर आये है, जिसमे हम एलसीडी का फुल फॉर्म क्या है ? (LCD ka full form क्या है) के बारे में बात करने वाले है। 

साथ मे जानेंगे की LCD kya hota hai, एलसीडी के उपयोग क्या है, एलसीडी के प्रकार, एलसीडी के फायदे क्या है और LCD Full Form in Hindi जैसे तमाम महत्वपूर्ण सवालों के जवाब आज के इस आर्टिकल में हम आपको देने वाले है।

Lcd ka full form, Lcd full Form in Hindi, Lcd kya hota hai, Lcd Meaning in hindi, Lcd meaning in Marathi, lcd kya hai, Lcd ke Fayde, एलसीडी के प्रकार

दोस्तो यदि आप भी एलसीडी का फुल फॉर्म नही जानते है, ओर एलसीडी के बारे में जानकारी पाना चाहते है, तो यह आर्टिकल आपके लिए ही है, आज हम आपको एलसीडी के बारे में सारी जानकारी विस्तार से देने वाले है,

जैसे कि एलसीडी क्या है, एलसीडी के प्रयोग क्या है, ओर  एलसीडी के फायदे ओर नुकसान क्या है, यह सारी जानकारियां हम आपको साझा करने वाले है, एलसीडी एक इलेट्रॉनिक डिस्प्ले डिवाइस है, जिसके कई सारे उपयोग होते है।

आज के समय मे एलसीडी के बारे में बहुत ही कम लोगो को पता है, यदि आप एलसीडी क्या है, विस्तार में जानना चाहते है, तो कृपया यह लेख पूरा पढ़े, आइये अब बिना किसी वक्त गवाएं जानते है, की एलसीडी का फुल फॉर्म क्या होता है।

LCD ka full form क्या है ? (LCD Full form in hindi)

एलसीडी का फुल फॉर्म Liquid Crystal Display होता है, एलसीडी का हिंदी में फुल फॉर्म द्रव क्रिस्टल पारदर्शी होता है, एलसीडी इलेट्रॉनिक डिस्प्ले डिवाइस है, जो एक अलग Electronic Voltage को Liquid Crystal की परत पर लागू करके संचालित होता है। 

जिसके कारण आप्टिकल गुणों में परिवर्तन होता है, एलसीडी का उपयोग मुख्यता Portable Electronic Games के लिए किया जाता है, जैसे की कैमरा रिकॉर्डर ओर डिजिटल कैमरा के लिए द्रवदर्शी के रूप मे।

इलेट्रॉनिक बिलबोर्ड के रूप में, कंप्यूटर के मॉनिटर के रूप में ओर फ्लैट पैनल के रूप में एलसीडी का प्रयोग किया जाता है। आइये दोस्तो एलसीडी के बारे में अधिक विस्तार से बात करते है।

LCD Kya Hota Hai ?

दोस्तो जैसे कि आपको पहले ही बता दिया, की  Liquid Crystal Display होती है, जो Tv के जैसी रहती है, लेकिन TV के मुकाबले LCD ज्यादा स्मूथ ओर पतली होती है, एलसीडी बहुत सी Layers से मिलकर बनी होती है।

Lcd की खास बात यह है, की Lcd एक Flat Panel Display Technology होती है। Lcd की सबसे अच्छी बात यह होती है, की Lcd बहूत ही Low Power पर काम करती है।

ओर Lcd की Display बहुत ही ज्यादा बेहतर दिखाई देती है, Crystal Image का छोटा टुकड़ा तैयार होकर बहुत ही ज्यादा Clear Image बनाता है। ओर Crystal को आमतौर पर Pixel कहा जाता है। 

Lcd में दो ग्लास लेयर होती है, जो एक – दूसरे से डिफरेंट होती है, लेकिन यह लेयर एक-दूसरे से Sticking होती है। तथा इनमे से एक लेयर पर Liquid Crystal की होती है।जब भी इनमे से Electric Lights आती है।

तो यह Liquid Crystal Lights को रोकती है, ओर छोड़ती है, ताकि स्क्रीन पर इमेज दिखाई देने लगे, जबकि Liquid Crystal की कोई Lights नही होती है, ऐसे में Liquid Crystal दूसरे स्त्रोतों से अपने ऊपर पड़ने वाली लाइट्स को कलेक्ट करती है। 

लिक्विड क्रिस्टल एक संरचना के साथ सामग्री है, जो लिक्विड सब्सटेंस ओर क्रिस्टल लाइन ठोस के बीच मध्यवर्ती होती है। तरल पदार्थ की तरह एक लिक्विड क्रिस्टल के अणु एक – दूसरे के पिछले करते है।

Concrete Crystal की तरह हालांकि वे अपने आप को पहचानने के आदेश वाले पैटर्न में पूरी तरह से व्यस्थित रहते है, Concrete Crystal के साथ आम तौर पर Liquid Crystal Polymorphism का प्रदर्शन करते है, अर्थात अलग – अलग संरचनात्मक पैटर्न ले सकते है।

प्रत्येक अद्वितीय गुणों के साथ एलसीडी या तो नेमेटिक या स्मीटिक लिक्विड क्रिस्टल का उपयोग करते है। नेमेटिक लिक्विड क्रिस्टल के अणु समांनातर में अपने एक्सिस के साथ खुद को संरेखित करते है। 

जैसा कि आंकड़ों में बताया गया है, दूसरी ओर स्मैल्टिक लिक्विड क्रिस्टल खुद को स्तरित सीट्स में व्यस्थित करते है। अलग-अलग स्मतिक चरणों के भीतर जैसा कि आंकड़ों में दिखाया गया है। अणु चादर के विमान के सापेक्ष अलग-अलग संरक्षण पर ले सकते हैं।

Liquid Crystal के आप्टिकल गुण सामग्री की एक परत के माध्यम से दिशा प्रकाश यात्रा पर निर्भर करते है। एक विघुत क्षेत्र एक छोटे विघुत वोल्टेज से प्रेरित लिक्विड क्रिस्टल की एक परत में अणुओं के ओरेंटशन को बदल देता है।

ओर इसी प्रकार इसके आप्टिकल गुणों को प्रभावित कर सकता है, इस प्रकार की पृक्रिया को इलेट्रॉ-आप्टिकल प्रभाव कहा जाता है, ओर यह LCD के लिए आधार बनाने का कार्य करता है। 

निमेटिक LCD के लिए आप्टिकल गुणों में परिवर्तन के परिणामस्वरूप आणविक अक्षो को लागू करने या लागू विघुत क्षेत्र के लंबवत होने के परिणामस्वरूप अणु की रासायनिक संरचना के विवरण के द्वारा निर्धारित की जा रही पसंदीदा दिशा, 

लिक्विड क्रिस्टल सामग्री जो एक लागू क्षेत्र के समानांतर या लंबवत संरेखित करते है। विशेष प्रकार के अनुप्रयोगों के अनुरूप चुना जा सकता है, लिक्विड क्रिस्टल मॉलिक्यूल्स को स्क्रीन पर दिखाने के लिए आवश्यक छोटे विघुत वोल्टेज LCD की व्यसायिक सफलता की एक महत्वपूर्ण विशेषता रही है।

ओर अन्य डिस्पले टेक्नॉलॉजिस ने शायद ही कभी अपने कम बिजली की खपत का मिलान किया गया हो। आइये अब बात करते है, की एलसीडी के उपयोग क्या है। 

यह भी पढ़े : 

एलसीडी के उपयोग ओर उपकरण 

एलसीडी के उपयोग आज के समय मे बहुत ही ज्यादा हो रहा है, एलसीडी का उपयोग अब हमारी लाइफ का अहम हिस्सा रहा है, एलसीडी का कई जगह उपयोग होता है, ओर एलसीडी के कई प्रकार के उपकरण बनाये जाते है, आइये जानते है, एलसीडी का प्रमुख उपयोग ओर उपकरण क्या है। 

  • Mobiles 
  • Television
  • Video Player 
  • Portable Laptops 
  • Computer Monitors
  • Gaming Devices 
  • Digital Watches 
  • Closes
  • Smart Devices 

Lcd के द्वारा यह प्रमुख प्रकार के उपकरण बनते है, आइये दोस्तो अब बात करते है, की एलसीडी के प्रकार क्या है। 

LCD के प्रकार 

दोस्तो LCD के प्रमुख दो प्रकार होते है, जोकि निम्नलिखित है-

  1. Dynamic Scattering Display 
  2. Super Twisted Nematic

LCD के यह दो प्रमुख प्रकार होते है, आइये अब बात करते हैं, की LCD TVs में colored pixels कैसे काम करती है।

LCD TVs में colored pixels कैसे काम करते हैं ?

दोस्तो बहुत से लोगो के मन में हमेशा यह सवाल जरूर रहता है, की LCD TVs में colored pixels कैसे काम करती है, दोस्तो हम आपको बताना चाहेंगे की सबसे पहले लाइट ट्रेवल करती है टीवी के पीछे लगे bright light से front की और एक horizontal polarizing फिल्टर जिससे कि लाइट के सामने रखा जाता है।

वह ब्लॉक करता है सारे light waves को वही केवल उन्हीं को नहीं कर पाता जो कि horizontal Vibrate कर रही होती हैं, केवल वही Light Waves इन्हें पार्क्स कर सकती हैं, जो कि होरिजेंटल वाइब्रेट करती है, एक ट्रांजिस्टर इस Pixel को Switch Of कर देता है,

जब वह लिक्विड क्रिस्टल से इलेक्ट्रिसिटी स्लो होने लग जाती हैं तो वे Switch On कर देता है जिससे कि क्रिस्टल स्टेट आउट हो जाता है और लाइट आसानी से आगे चली जाती है बिना किसी बदलाव के अब आप समझ ही गए होंगे की LCD TVs में colored pixels कैसे काम करती है।

एलसीडी के फायदे

आज के युग की एलसीडी पहली जरूरत है, ऐसे में एलसीडी के कई सारे फायदे है, जोकि कुछ इस प्रकार है- 

  • LCD पहले की TV की तुलना में बहुत कम Light कंज्यूम करती है।
  • LCD High Intensity के कारण Bright Picture Quality Provide करती है, जोकि आज के युग मे बहुत जरूरी होती है।
  • LCD CRT की तुलना में कम Eletrycity खर्च करने का कार्य करती है।
  • LCD के द्वारा कई सारे उपकरण बनते है, जिनकी आज के युग में पहली जरूरत है।
  • LCD के बने उपकरण बहुत ज्याद उपयोगी ओर आसान  होते हैं।
दोस्तो एलसीडी के प्रमुख प्रकार के फायदे है, एलसीडी के द्वारा बनाये जा रहे उपकरण मानव जाति के लिए बहुत ही ज्यादा उपयोगी और फ़ायदेमंद साबित होते है। 

LCD और LED में क्या अंतर है?

दोस्तो LCD और LED एक दूसरे से काफी मिलते जुलते है, बस यही कारण है, की ज्यादातर लोग इन दोनो के बीच अंतर को लेकर हमेशा कंफ्यूजन में रहते है, हम आपको बताना चाहेंगे की भले ही LCD और LED एक दूसरे से मिलते जुलते है, 

लेकिन फिर भी इन दोनो में काफी अंतर देखने को मिलते है, LCD और LED के बीच अंतर की बात करें तो यह है की एलईडी पीएन-जंक्शन डायोड का उपयोग करता है जब करंट इसके पास से गुजरता है तो यह लाइट को उत्सर्जित करता है

जबकि एलसीडी में visible light emission के लिए लिक्विड क्रिस्टल यह plasma का इस्तेमाल किया जाता है। लिक्विड क्रिस्टल ग्लास इलेक्ट्रोड के बीच भरे होते हैं और जब एलसीडी को चालू किया जाता है, तो लिक्विड क्रिस्टल सक्रिय हो जाता है और लाइट का उत्सर्जन करता है।

LCD Ka Full Form से संबंधित FAQs

दोस्तो LCD Full Form in Hindi से संबंधित आपके मन मे ओर भी कई सारे सवाल होंगें, जिनके जवाब नीचे इस लेख में आपको मिल जाएंगे-
 

LCD Full Form in Computer

दोस्तो कंप्यूटर में एलसीडी का फुल फॉर्म द्रव क्रिस्टल पारदर्शी होता है, एलसीडी इलेट्रॉनिक डिस्प्ले डिवाइस है।

एलसीडी का फुल फॉर्म क्या है ?

एलसीडी का फुल फॉर्म Liquid Crystal Display होता है, जिसको हिंदी में द्रव क्रिस्टल पारदर्शी कहते है।

एलसीडी क्या होती है ?

एलसीडी का पूरा नाम द्रव क्रिस्टल पारदर्शी है यह टीवी के जैसी होती है, लेकिन TV के मुकाबले LCD ज्यादा स्मूथ ओर पतली होती है, LCD एक Flat Panel Display Technology होती है।

एलसीडी का दूसरा नाम क्या है?

दोस्तो एलसीडी का दूसरा नाम या पूरा नाम की बात करें तो एलसीडी का दूसरा नाम “Liquid Crystal Display” होता है, जिसको हिंदी में लिक्विड क्रिस्टल डिस्पले कहा जाता है, यह एलसीडी का दूसरा नाम है।

एलसीडी कब बनी थी?

दोस्तो एलसीडी का सबसे पहले पता 1888 में लगाया गया था, तब से एलसीडी में लगातार विकास हो रहा है, एलसीडी एक ऐसी टेक्नोलॉजी है, जिसका इस्तेमाल डिस्पले के लिए किया जाता है, चाहे वो कंप्यूटर डिस्प्ले हो या फिर TVs डिस्प्ले हो।

मोबाइल में एलसीडी का क्या मतलब है?

दोस्तो मोबाइल या कंप्यूटर में एलसीडी का मतलब “Liquid Crystal Display” होता है, जिसको हिंदी में लिक्विड क्रिस्टल डिस्पले कहा जाता है।

सबसे अच्छा डिस्प्ले कौन सा है?

दोस्तो आज से कुछ साल पहले तक एलईडी और एलसीडी अच्छी डिस्प्ले हुआ करती थी, लेकिन आज के समय में AMOLED और OLED दुनिया में सबसे अच्छे डिस्प्ले में से एक हैं. AMOLED और OLED में आपको अच्छी क्वालिटी के साथ बेहतर कलर रिप्रोडक्शन, धूप में बेहतर विजिबिलिटी देखने को मिल जाती है, और इनमे हजारों प्रकार के कलर दिखाई देते है।

निष्कर्ष : 

फ्रेंड्स आसा करते है, की आपको यह लेख पसंद आया होगा, इस लेख में हमारे द्वारा LCD ka full form क्या है (LCD full Form in Hindi) ओर Lcd kya hota hai, 
 
जैसी सारी जानकारीयां दी है, यदि यह जानकारी आपको पसंद आई है, तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करें, ओर यदि आपके मन मे इस आर्टिकल से संबंधित कोई सवाल है, तो आप हमें कमेंट के द्वारा बता सकते है।
 
आपके सवालो के जवाब देने पूरी कोशिश करेंगे। ऐसी ओर भी महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त करने के लिए हमारे इस ब्लॉग को गूगल पर सर्च कर सकते है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!