MPin Kya hota hai, एमपिन क्या होता है, Mpin meaning in Hindi, एमपिन का फुल फॉर्म क्या होता है, MPin Full Form in Hindi, एमपिन का मतलब क्या होता है, MPIN kaise banaye, MPIN bhul Gaye to Kya kare

MPIN क्या होता है – MPIN कैसे बनाए ?

MPin Kya hota hai, एमपिन क्या होता है, MPin Full Form in Hindi, एमपिन का मतलब क्या होता है, 

दोस्तो आप सभी का इस ब्लॉग पोस्ट में स्वागत है, इस ब्लॉग पोस्ट में हम एमपिन क्या होता है (MPin Kya hota hai) के बारे में बात करने वाले है, साथ में जानेंगे की एमपिन का फुल फॉर्म क्या होता है, एमपिन का मतलब क्या होता है और एमपिन क्या होता है से जुड़ी हुई जानकारी देने वाले है।
 
वर्तमान समय में डिजिटलाइजेशन काफी ज्यादा बढ़ गया है, और हम हमारे कई सारे कार्य डिजिटली रूप से करते है, और बहुत से कार्य है, जिन्हे हम ऑनलाइन बहुत ही आसानी से कर सकते है, जेसे ऑनलाइन शॉपिंग करना, ऑफिस कार्य करना, और पैसों की लेन-देन करना। 
 
आज से कुछ समय पहले तक हमें पैसों की लेन-देन के लिए काफी ज्यादा परेशान होना पड़ता था, लेकिन आज के समय में आसानी से पैसे एक जगह से दूसरी जगह भेज सकते है, लेकिन ऑनलाइन पैसे भेजने के लिए और बैंक अकाउंट को सुरक्षित रखने के लिए हमें MPIN की अवश्यता पड़ती है, 
MPin Kya hota hai, एमपिन क्या होता है, Mpin meaning in Hindi, एमपिन का फुल फॉर्म क्या होता है, MPin Full Form in Hindi, एमपिन का मतलब क्या होता है, MPIN kaise banaye, MPIN bhul Gaye to Kya kare
जिनकी मदद से हम एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसे भेज सकते है, परंतु बहुत से लोगो को एमपिन क्या होता है, और एमपिन कैसे बनाते हैं से संबंधित बिलकुल भी जानकारी नहीं है, अगर आपको भी नहीं पता है, की एमपिन क्या होता है, तो कृपया इस पोस्ट अंत तक जरूर पढ़े।
 

एमपिन क्या होता है? (MPin Kya hota hai) 

दोस्तो ऑनलाइन बैंकिंग से संबंधी कार्यों में एमपिन का इस्तेमाल किया जाता है, एमपिन एक 4 या 6 डिजिट का कोड होता है, जोकि पेमेंट ट्रांसफर करने में और अपने बैंक अकाउंट का अमाउंट चेक करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है, 
 
एमपिन यूपीआई पिन की तरह ही होता है, जब भी कोई यूजर्स ऑनलाइन किसी पेमेंट ट्रांसफर ऐप में अपना बैंक अकाउंट एड करता है, तो उसे अपना एक एमपिन बनाना होता है, जिसकी मदद से ही वह एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसे भेज सकता है, 
 
दोस्तो अगर देखा जाए तो एमपिन को आप यूपीआई पिन की तरह समझ सकते है, दोनो में कोई खास अंतर नही है, दोस्तो अगर आप किसी एयरटेल वॉलेट या किसी दूसरे वॉलेट से पैसे भेज रहे है, तो आपको एमपिन की जरूरत पड़ सकती है, 
 
दोस्तो एमपिन आपके बैंक अकाउंट की सुरक्षा के लिए बेहद ही ज्यादा महत्वपूर्ण होता है ऐसे में आपको अपना एमपिन किसी को साझा नहीं करना है और अगर आपसे कोई आपका एमपिन पूछता है तो कृपया करके उसे अपना एमपिन ना बताए, 
 
एमपिन का उपयोग आमतौर पेमेंट ट्रांसफर और पेमेंट चेक करने के लिए किया जाता है, इसे आप पासवर्ड के रूप में समझ सकते है, जिस प्रकार आप अपने इंस्टाग्राम अकाउंट या व्हाट्सएप को सुरक्षित रखने के लिए पासवर्ड का इस्तेमाल करते है, 
 
उसी प्रकार एक बैंक अकाउंट को सुरक्षित रखने के लिए एमपिन बनाया जाता है, दोस्तो कोई भी व्यक्ति ऑनलाइन बैंकिंग को एक्टिवेट करते समय एमपिन बना सकता है, आइए अब जानते है की एमपिन का फुल फॉर्म क्या होता है।
 

एमपिन का फुल फॉर्म क्या है? (MPin Full Form in Hindi)

दोस्तो एमपिन का फुल फॉर्म Mobile Banking Personal Identification Number होता है, जिसको हिंदी में  मोबाइल बैंकिंग व्यक्तिगत पहचान संख्या कहते है, एमपिन एक 4 अंको गुप्त पिन होता है, 
 
जोकि ऑनलाइन बैंकिंग को एक्टिवेट करते समय एमपिन बनाया जाता है, कोई भी व्यक्ति ऑनलाइन पेमेंट ट्रांसफर ऐप में इंटरनेट बैंकिंग चालू करते समय यह एमपिन बना सकता है, आइए अब जानते है की MPIN kaise banaye.
 

एमपिन कैसे बनाए ? (MPin Kaise Banaye)

दोस्तो अगर आप जानना चाहते है, की एमपिन कैसे बनाए तो हम आपको बताना चाहेंगे की अगर आप ऑनलाइन पेमेंट ट्रांसफर ऐप का इस्तेमाल करते है, तो ही आपको एमपिन की जरूरत होगी, और अगर आप फोन पे, गूगल पे, एयरटेल मनी, पेटीएम का इस्तेमाल नहीं कर रहे है, 
 
तो आपको किसी भी प्रकार का एमपिन बनाने की कोई जरूरत नहीं है, एमपिन बनाना काफी ज्यादा आसान है, एमपिन बनाने के लिए आपके पास एक बैंक अकाउंट, बैंक का डेबिट कार्ड और आपके बैंक अकाउंट से लिंक एक्टिव मोबाइल नंबर होना चाहिए, 
 
जिसके बाद आप आसानी से गूगल पे, एयरटेल मनी की मदद से अपना एमपिन बना सकते है, जैसा की आपको पहले ही बताया था कि बैंक अकाउंट को एक्सेस करने और एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने के लिए ही एमपिन की जरूरत होती है।
 

एमपिन का इस्तेमाल कहां किया जाता है?

दोस्तो अगर आपके मन में भी यह सवाल चल रहा है, की एमपिन का इस्तेमाल कहां किया जाता है, तो हम आपको बताना चाहेंगे की एमपिन का इस्तेमाल कोई भी व्यक्ति मोबाइल बैंकिंग, UPI ऐप, आईवीआर, एसएमएस बैंकिंग, 
 
IMPS और USSD बैंकिंग आदि के लिए कर सकता है, जैसा की आपको बताया था की किसी भी बैंक अकाउंट को एक्सेस करने और एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने के लिए ही एमपिन इस्तेमाल किया जाता हैं।
 

MPIN bhul Gaye to Kya kare ?

दोस्तो अगर आपके मन में भी यही सवाल है कि अगर हम एमपिन भूल गए तो क्या करें तो दोस्तों हम आपको बताना चाहेंगे कि अगर आप अपना एमपिन भूल जाते हैं तो इसके लिए आपको अपना एमपिन फॉरगेट करना होगा, जिसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर ओटीपी जाता है, 
 
और ओटीपी वेरीफाई करवाने के बाद एक नया एमपिन बना सकते हैं, आप नया एमपिन 3 तरीको से बना सकते है, बैंक शाखा जाकर, एटीएम की मदद से और ऑनलाइन नेट बैंकिंग के द्वारा। इन तीनो तरीको से आप अपना नया एमपिन प्राप्त कर सकते है, आइए अब जानते है की एमपिन के फायदे क्या है।
 

एमपिन के फायदे क्या है? (Mobile Banking Personal Identification Number Benefits in Hindi)

दोस्तो एमपिन यानिकि मोबाइल बैंकिंग व्यक्तिगत पहचान संख्या के कई सारे फायदे भी है, जोकि निम्नलिखित है –
  • MPIN (Mobile Banking Personal Identification Number) की मदद से आपके द्वारा किए जाने वाले ट्रांजेक्शन बहुत ही ज्यादा सुरक्षित होते है।
  • दोस्तो एमपिन 4 या 6 अंको का एक पिन होता है, जिन्हे आप अपने अनुसार चेंज कर सकते है।
  • दोस्तो जैसा की आप सभी को पता है, की एमपिन 4 या 6 अंको का होता है, ऐसे में आप आसानी से एमपिन को आसानी से याद रख सकते है।
  • दोस्तो अगर आप एमपिन प्राप्त करना चाहते है, तो हम आपको बताना चाहेंगे की आप आसानी से बैंक शाखा, एटीएम और नेट बैंकिंग के द्वारा एमपिन प्राप्त कर सकते है।
  • एमपिन का फायदा यह भी आपके फोन से अगर कोई पैसे निकालने की सोच रहा है, और उसे आपका एमपिन नही पता है, तो बिना एमपिन के वह पेमेंट कंपलेट नही होगी।
  • दोस्तो एमपिन का यह भी फायदा है की अगर आप अपना एमपिन भूल भी जाते है तो आप आसानी से अपना एमपिन बना सकते है।
दोस्तो एमपिन के प्रमुख यह फायदे है जिनके बारे में अब आपको जानकारी मिल गई होगी आसा करते है, की एमपिन क्या होता है (MPin Kya hota hai) से संबंधित यह जानकारी आपको पसंद आई होगी।
 

MPin Kya hota hai से संबंधित FAQS

4 अंकों का एमपिन क्या है?

दोस्तो 4 अंको का एमपिन एक गुप्त कोड होता है, जिसका उपयोग मोबाइल बैंकिंग को सिक्योर बनाने के लिए किया जाता है।

MPIN क्या है?

जब भी आप किसी यूपीआई ऐप में इंटरनेट बैंकिंग चालू करते है तो आपको 4 या 6 अंक का पिन दिया जाता है, उसे MPIN कहते है, यह एमपिन एक यूपीआई पिन की तरह होता है।

अगर में अपना MPIN भूल गया तो क्या होगा?

अगर आप अपना MPIN भूल जाते है तो इसमें कोई चिंता की बात नही है, आप अपने MPIN को Forgat कर सकते हैं, और एमपिन फॉरगेट करके एक नया एमपिन बना सकता है।

एमपिन कैसे बनाते हैं?

दोस्तो एमपिन बनाना बहुत ही ज्यादा आसान है आप आसानी से एमपिन बना सकते हैं जब भी आप अपने मोबाइल में किसी बैंक का इंटरनेट बैंकिंग शुरू करते हैं तो आपको एमपिन बनाना पड़ता है, आप एमपिन पिन ऑनलाइन, बैंक शाखा जाकर और एटीएम की मदद से बना सकते है।

एमपिन और यूपीआई पिन में क्या अंतर है?

दोस्तो एमपिन और यूपीआई पिन में ज्यादा कुछ अंतर नहीं है, दोनों पिन एक जैसे ही होते हैं और दोनो का कार्य भी एक जैसा ही होता है, एमपिन हो या यूपीआई पिन हो, दोनो आपके बैंक अकाउंट की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए बनाए जाते है, एमपिन का उपयोग बैंकिंग ऐप में होता है, जबकि यूपीआई पिन का इस्तेमाल यूपीआई ऐप जैसे फोन पे, गूगल पे में होता है।

एमपिन और एटीएम पिन में क्या अंतर है?

दोस्तो एटीएम पिन आपके डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड का 4 अंकों का पिन होता है जोकि बैंक के द्वारा प्रदान किया जाता है, आप इस पिन को चेंज भी कर सकते हैं एटीएम पिन का इस्तेमाल एटीएम की मदद से पैसे निकालने में किया जाता है जबकि एमपिन 4 या 6 अंकों का होता है और इनका इस्तेमाल आपके बैंक अकाउंट को सुरक्षित करने के लिए और इंटरनेट बैंकिंग को शुरू करने के लिए किया जाता है।

निष्कर्ष:

दोस्तो आसा करते है, की आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आई होगी, इस लेख में हमारे द्वारा एमपिन क्या होता है (MPin Kya hota hai) से संबंधित जानकारी दी गई है अगर यह जानकारी आपको पसंद आई हो,
 
तो इसे अपने दोस्तों तक जरूर शेयर करें और अगर आपके मन में कोई सवालिया सुझाव हो तो आप हमें कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं इसके अलावा ऐसी ही और भी महत्वपूर्ण जानकारी पाने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!